Ajay Saini

Ajay Saini
मैं लाला राम सैनी (Ajay)ग्राम पोस्ट बरखेडा, तह.मालाखेडा,जिला.अलवर, राजस्थान पिन कोड 301406 का रहने वाला हूँ | मैंने Electronics Mechanic से ITI और हिन्दी साहित्य से Post Graduate हूं | वर्तमान में दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro-DMRC) में तकनीकी विभाग में कार्यरत हूँ | मुझे काव्य लेखन का अत्यधिक शौक है| इसलिए मैंने मन के पर वेबसाइट को चुना | यहाँ पर मुझे अपनी कला को साबित करने का मौका मिला है,मैं तहे दिल से Man Ke Par का आभारी हूँ |

तेरे सिवा | Tere Siwa

tere siwa

तेरे सिवा | Tere Siwa इस दुनिया में कुछ भी सही नहीं है तेरे सिवा (Tere Siwa) कोई और कहाँ चाहेगा इतना तुमको एक मेरे सिवा किसी को भी राज बताने से डर लगता है क्योंकि, लोगों ने सीखा ही नहीं दर्द के उपहास के सिवा l   अगर एक …

Read More »

ना अब दिल दुखाएंगे

ना अब दिल दुखाएंगे- naa ab dil dukhayenge

ना अब दिल दुखाएंगे किसी का ना अब हम दिल दुखाएंगे! किसी पर ना अब हम हक जमाएंगे घर के बड़ों ने तो सिर्फ नाम रख दिया। अब नाम और पहचान हम खुद ही बनाएंगे। रहते हैं कायारुपी किराए के मकान में, रोज सांसो को बेचकर किराया हम ही चुकाएंगे। …

Read More »

सुरक्षा-suraksha | Safety

सुरक्षा-suraksha-Safety

सुरक्षा से जीवन का सार, बिन सुरक्षा जीवन बेकारसुरक्षा से जीवन में बहार, सुरक्षा के है मायने हजार

Read More »

नानी मां का वो गांव | Gaanv

गाँव

नानी मां का वो गाँव (Gaanv) नहीं भूला हूँ मैं आज भी नानी माँ का वो गाँव (Gaanv)। कितना सुखमय बीता मेरे बचपन का वो पड़ाव। ग्राम्य जीवन दुष्कर था पर नहीं था वहाँ तनाव॥   वो कच्ची थी हवेली जहाँ पर खेली आंंख मिचोली। मेरी प्यारी नानी थी वो …

Read More »