जिन्दगी में

कई आते है कई जाते है जिन्दगी में ,
कुछ हँसाते हैं  कुछ रुलाते हैं ज़िंदगी मेंकुछ  अपना बना कर छोड़ जाते है ,
पर कुछ खास होते है ज़िदगी में ,
पर कुछ सांसे बन कर बस जाते है इस ज़िंदगी में ,कभी सोच बन कर ,
तो यादों के सहारे ,तो कभी आंसू बन कर  बह निकलते हैं  इस दिल से ,
जितना भूलोगे उतना याद आते है ज़िंदगी में,
सब कुछ पा कर भी गबा देते हैं ज़िन्दगी में ,
कई आते है कई जाते है इस ज़िंदगी में ,
पर कुछ  खास बन कर बस जाते है इस दिल में ,

कई आते है कई जाते है जिन्दगी में

 

Zindagi mein

kaee aate hai kaee jaate hai Zindagi mein ,
kuchh hansaate hain  kuchh rulaate hain zindagee mein
kuchh  apana bana kar chhod jaate hai ,
par kuchh khaas hote hai zidagee mein ,
par kuchh saanse ban kar bas jaate hai is zindagee mein ,kabhee soch ban kar ,
to yaadon ke sahaare ,to kabhee aansoo ban kar  bah nikalate hain  is dil se ,
jitana bhoologe utana yaad aate hai zindagee mein,
sab kuchh pa kar bhee gaba dete hain zindagee mein ,
kaee aate hai kaee jaate hai is zindagee mein ,
par kuchh  khaas ban kar bas jaate hai is dil mein ,

यह भी पढ़ें :- 

  1. अपने
  2. पुराना ज़माना 
  3. काली ज़ुबान 
  4. तेरी खैर
  5. Money Matters

 

 

Related Posts

This Post Has 3 Comments

Comments are closed.