ITR New Portal and Income Tax Rules 2021 | इनकम टेक्स रिटर्न का नया portal और अधिनियम 1962 में संशोधन

जैसा कि आपको पता ही है कि अब  ITR (income tex Tax Return ) की e-Filing  New Portal से होगी |
इसके लिए  पुराने portal को बन्द (dactivate) कर दिया गया है | इस नए portal से संबंधित जानकारी CBDT
(Central Board of Direct Taxes ) द्वारा कुछ दिन पहले दी गयी थी | यह ITR New Portal पर e-Filing
की सुविधा 07/06/2021 अर्थात सात जून से उपलब्ध करवाई जायेगी | इसके साथ
इस portal पर करदाता अपनी ITR फाइल अधिक आसानी से और कम समय में कर पाएंगे |
इतना ही नहीं इसके बाद बहुत जल्द ही एक मोबाइल ऐप (mobile app ) भी जारी किया जाएगा | जिससे कि ऐसे
व्यक्ति जिनके पास केवल mobile के आलावा कुछ नहीं है वो भी आसानी से अपने आयकर का भुगतान कर सकेंगे |
इतना ही नहीं यहाँ से करदाता इस portal की विभिन्न सुविधाओं से भी परिचित हो पाएंगे |

 

Table of Contents

      1. ITR New Portal क्या है और  इसको क्या नाम दिया गया है?
      2. नए portal पर कौन कौन सी नई सुविधाएँ प्राप्त होंगी ?
      3. Mobile से ITR कैसे भरें ?
      4. ITR भरते समय आने वाली दिक्कतों का समाधान कैसे होगा?
      5. इस नए ITR portal के बारे में विशेषज्ञों की क्या राय है?
      6. वर्ष 2021 के new incom tax rules क्या हैं?
      7. New incom tax rules 2021 को download कहाँ से करें ?

क्या है यह ITR New Portal

इस portal को e-filing 2.0 का नाम दिया गया है| इस portal पर Tax  Refund  की प्रक्रिया भी अधिक
तेज़ होगी | यह portal अधिकतर जानकारी पहले से भरी हुई ही प्रदान करेगा| इसके आलावा जो लोग अभी
अपने आप से Return फाईल  नहीं कर पाते हैं, उनके लिए निशुल्क ITR Preparation Interactive Software
उपलब्ध होगा, यह software उनको ITR file करने के बारे में विस्तार से जानकारी देगा |

 

नए portal पर  नई सुविधाएँ ( New Facilities on the new portal)

जहाँ पुराने portal पर करदाता को Salary और Savings की जानकारी प्राप्त होती थी, वहीँ अब इस नए portal पर
इस जानकारी की साथ साथ Dividend (लाभांश) और TDS (Tax Deducted at Source) आदि की जानकारी भी
form में पहले से भरी हुई मिलेगी | इसका लाभ यह होगा कि वेतनभोगियों (Salaried) और वृत्ति-भोगी / पेंशनर ( pensioner )
को आयकर का रिटर्न (ITR) भरने में और ज्यादा आसानी होगी | कारोवारियों (Businessmen) को भी बहुत सी जानकारी पहले से ही भरी हुई मिलेगी |
इसके अलावा बहुत से ऐसे लोग जो अभी अपने आप ITR  File  नहीं कर पाते हैं, उनके लिए  ITR Preparation Interactive Software निशुल्क में  उपलब्ध होगा, जो उन्हें रिटर्न फाइल करने की बारीकियां समझाएगा |

ITR App या app for ITR filing

यदि ख़बरों की माने तो इस सॉफ्टवेर (Software) को launch करने के बाद जल्द ही ITR की e-filing एक mobile app भी launch किया जाएगा | इस ITR App के माध्यम से केवल mobile phone (smart phone)से भी आयकर भरा जा सकेगा |
इसका लाभ यह होगा कि करदाताओं को अपनी detail submit करने में सहजता का अनुभव होगा, और करदाता विभिन्न सुविधाओं से परिचित भी हो पाएंगे |

 

ITR call center

ख़बरों के मुताबिक इतनी सारी सुविधाओं के साथ आयकर विभाग के द्वारा 24/7 call center की सुविधा भी उपलब्ध रहेगी|
यहाँ पहले की तरह करदाता अपनी समस्याओं का तत्काल समाधान पा सकेंगे | यह portal FAQ से लैस होगा अर्थात यहाँ पर आपके प्रश्नों के उत्तर पहले से भी उपलब्ध रहेंगे| यहाँ आपको आपके प्रश्नों के उत्तर Video tutorial के माध्यम से भी प्राप्त हो सकेंगे|

विशेषज्ञों की राय

इस portal की सफलता और महत्ता तो launch होने के बाद ही पता चल पायेगी, लेकिन अभी के लिए यदि
CA (Chartered Accountants) चार्टर्ड अकाउंटेंट और  आयकर विशेषज्ञों (Tax Experts) की मानें तो
ITR New Portal इस आने के बाद User का फीडबैक feedback देखकर ही पता लगाया जा सकेगा
कि यह कितनी सुविधाएं बढ़ाएगा| यदि ITR के लिए 24/7 call center की सुविधा रहेगी तो अधिक अच्छा रहेगा|
फिर भी कुछ आयकर विशेषज्ञों (Tax Experts) के अनुसार यदि करदाता  पहले से ही अपनी बचत की जानकारी
नहीं देता है या फिर इसमें बदलाव करता है तो कुछ अतिरिक्त details उसे ITR New Portal पर आईटीआर
भरते (ITR Filing) समय डालनी पड़ेंगी |

Income Tax (16th amendment )2021 | ITR  Rules amendment in act 1962

ITD (Incom Tax department Govt. of Indiaके official website पर Ministry of Finance के अंतर्गत Department of Revenue के CENTRAL BOARD OF DIRECT TAXES के  द्वारा 24/05/2021 (24 मई  2021) को एक नया Notification जारी किया गया है जिसमें निम्न प्रकार से Incom Tax (16th amendment )2021 का वर्णन है :-

1. संक्षिप्त शीर्षक और प्रारंभ.-(1) इन नियमों को आयकर (16वां संशोधन) 2021 नियम {Incom Tax (16th amendment )2021}कहा जा सकता है,

2. आयकर नियम, 1962 में,  नियम 11UAD के बाद, निम्नलिखित नियम को शामिल किया जाएगा, : –

“11UAE. आयकर की धारा 50B के प्रयोजनों के लिए पूंजीगत संपत्ति के उचित बाजार मूल्य की गणना
अधिनियम।

(१) धारा ५०बी की उप-धारा (२) के खंड (ii) के प्रयोजन के लिए, पूंजीगत संपत्ति का उचित बाजार मूल्य
उप-नियम (2) के तहत निर्धारित FMV1 या उप-नियम (3) के तहत निर्धारित FMV2, जो भी अधिक हो, होगा।

(२) FMV1 निर्धारित मंदी बिक्री के माध्यम से हस्तांतरित पूंजीगत संपत्ति का उचित बाजार मूल्य होगा
सूत्र के अनुसार –

A+B+C+D – L, जहां,

A = सभी संपत्तियों का बुक वैल्यू (आभूषण, कलात्मक कार्य, शेयर, प्रतिभूतियां और अचल संपत्ति के अलावा)
जैसा कि मंदी बिक्री के माध्यम से हस्तांतरित उपक्रम या डिवीजन के खातों की पुस्तकों में दिखाई देता है:
निम्नलिखित राशि से घटाया गया जो ऐसे उपक्रम या विभाजन से संबंधित है, –

(i) भुगतान किए गए आयकर की कोई राशि, यदि कोई हो, दावा किए गए आयकर रिफंड की राशि, यदि कोई हो, घटाकर; तथा

(ii) आस्थगित व्यय की परिशोधित राशि सहित परिसंपत्ति के रूप में दिखाई गई कोई भी राशि जो
किसी संपत्ति के मूल्य का प्रतिनिधित्व करते हैं;

B = वह कीमत जो आभूषण और कलात्मक कार्यों के आधार पर खुले बाजार में बेचे जाने पर प्राप्त होगी
एक पंजीकृत मूल्यांकनकर्ता से प्राप्त मूल्यांकन रिपोर्ट;

C = नियम के उप-नियम (1) में दिए गए तरीके से निर्धारित शेयरों और प्रतिभूतियों का उचित बाजार मूल्य
11UA;

D = भुगतान के उद्देश्य के लिए सरकार के किसी भी प्राधिकरण द्वारा अपनाया गया या मूल्यांकन या मूल्यांकन योग्य मूल्य value
अचल संपत्ति के संबंध में स्टाम्प शुल्क का;

L = देनदारियों का बही मूल्य जैसा कि उपक्रम या हस्तांतरित विभाजन के खातों की पुस्तकों में दिखाई देता है
मंदी बिक्री के माध्यम से, लेकिन निम्नलिखित राशियों को शामिल नहीं करता है जो ऐसे उपक्रम या विभाजन से संबंधित है,
अर्थात्: –

(i) इक्विटी शेयरों के संबंध में चुकता पूंजी;

(ii) वरीयता शेयरों और इक्विटी शेयरों पर लाभांश के भुगतान के लिए निर्धारित राशि जहां ऐसे लाभांश such
कंपनी की आम सभा की बैठक में स्थानांतरण की तारीख से पहले घोषित नहीं किया गया है;

(iii) आरक्षित और अधिशेष, चाहे किसी भी नाम से पुकारा जाए, भले ही परिणामी आंकड़ा नकारात्मक हो, उन सेटों के अलावा
मूल्यह्रास के अलावा;

(iv) भुगतान किए गए आयकर की राशि के अलावा कराधान के प्रावधान का प्रतिनिधित्व करने वाली कोई भी राशि, यदि कोई हो, से कम
वापसी के रूप में दावा किए गए आयकर की राशि, यदि कोई हो, के संदर्भ में देय कर से अधिक की सीमा तक
उस पर लागू कानून के अनुसार बही लाभ;

(v) सुनिश्चित देनदारियों के अलावा, देनदारियों को पूरा करने के लिए किए गए प्रावधानों का प्रतिनिधित्व करने वाली कोई भी राशि;

(vi) के संबंध में देय लाभांश के बकाया के अलावा आकस्मिक देनदारियों का प्रतिनिधित्व करने वाली कोई भी राशि amount
संचयी वरीयता शेयर।

(३) FMV2 रास्ते में हस्तांतरण के परिणामस्वरूप प्राप्त या अर्जित प्रतिफल का उचित बाजार मूल्य होगा
मंदी की बिक्री का निर्धारण सूत्र

E+F+G+H के अनुसार किया जाता है, जहाँ,

E = हस्तांतरण के परिणामस्वरूप प्राप्त या अर्जित मौद्रिक प्रतिफल का मूल्य;

F = प्रतिनिधित्व किए गए हस्तांतरण के परिणामस्वरूप प्राप्त या अर्जित गैर-मौद्रिक प्रतिफल का उचित बाजार मूल्य
नियम 11UA के उप-नियम (1) में निर्दिष्ट संपत्ति द्वारा नियम के उप-नियम (1) में दिए गए तरीके से निर्धारित
उस उप-नियम में शामिल संपत्ति के लिए 11UA;

G = वह मूल्य जो गैर-मौद्रिक प्रतिफल को हस्तांतरण के परिणामस्वरूप प्राप्त या अर्जित होने का प्रतिनिधित्व करता है
संपत्ति द्वारा, अचल संपत्ति के अलावा, जिसे नियम 11UA के उप-नियम (1) में संदर्भित नहीं किया गया है, यदि प्राप्त होगा
के संबंध में एक पंजीकृत मूल्यांकनकर्ता से प्राप्त मूल्यांकन रिपोर्ट के आधार पर खुले बाजार में बेचा गया
संपत्ति;

H = भुगतान के उद्देश्य के लिए सरकार के किसी भी प्राधिकरण द्वारा अपनाया गया या मूल्यांकन या मूल्यांकन योग्य मूल्य value
गैर-मौद्रिक प्रतिफल प्राप्त या अर्जित होने की स्थिति में अचल संपत्ति के संबंध में स्टाम्प शुल्क का
हस्तांतरण के परिणामस्वरूप अचल संपत्ति का प्रतिनिधित्व किया जाता है।

(४) उप-नियम (२) और उप-नियम (३) के तहत पूंजीगत संपत्ति का उचित बाजार मूल्य निर्धारित किया जाएगा
मंदी बिक्री की और इस प्रयोजन के लिए नियम 11यूए में निर्दिष्ट मूल्यांकन तिथि का अर्थ मंदी बिक्री की तारीख से भी होगा।

स्पष्टीकरण। -इस नियम के प्रयोजनों के लिए, अभिव्यक्ति “पंजीकृत मूल्यांकक” और “प्रतिभूतियों” में होगा
अर्थात जो क्रमशः नियम 11प में उन्हें दिए गए हैं।”

Note:- इस notification को ITD की website से लिया गया है और हिंदी में Google Translate की सहायता से  रूपांतरित किया गया है| अत: इसमें गलती होने की संभावना भी हो सकती है| Notification को नीचे दिए गए लिंक से प्राप्त कर सकते हैं तथा वही मान्य होगी | 

Income Tax (16th amendment )2021 की अधिकारिक Notification को डाउनलोड करने के लिए यहाँ click करें

यह भी पढ़ें:-

    1. Best Articles of Man Ke Par
    2. How To Download Covid-19 Vaccination Certificate | Covid-19 टीकाकरण का प्रमाण पत्र कैसे प्राप्त करें
    3. How to Register for Covid-19 Vaccination | Covid-19 टीकाकरण के लिए पंजीकरण कैसे करें
    4. Love or Tickle | मोहब्बत या फिर गुदगुदी
    5. Love Life
    6. रुलाया गया हूँ मैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *