नया पैगाम

आज इक नया पैगाम मिला हैं हर इक खुदगर्ज  इन्सान मिला हैं,

नं हिन्दू नं मुसलमान मिला है  मतलब  की दुनियाँ मै हर इक रिश्ता  नीलाम मिला  है ,

आज इक नया पैगाम मिला है सरे आम बिकता इमान मिला है

नशे मे  चूर मदहोस नोजबान ,   देश की शान मिला है

धर्म के नाम  पर दुश्मन बन बेठा हर  इन्सान ,धर्म, जाती,के नाम से बंटा ये संसार मिला है ,

देश भक्त को तो बस कब्रेसतन मिला है ,इमानदारी का ऐसा इनाम मिला है

स्बाद की खातिर काटता बेजुबान मिला है  ,

आज इक नया पैगाम मिला है ,

 

Naya Paigaam

aaj ik naya paigaam mila hain har ik khudagarj  insaan mila hain, nan hindoo nan musalamaan mila hai  matalab  kee duniyaan mai har ik rishta  neelaam meela hai , aaj ik naya paigaam mila hai sare aam bikata imaan mila hai

nashe me  choor madahos nojabaan ,   desh kee shaan mila hai

dharm ke naam  par dushman ban betha har  insaan ,dharm, jaatee,ke naam se banta ye sansaar mila hai ,

desh bhakt ko to bas kabresatan mila hai , imaanadaaree ka aisa inaam mila hai

sbaad kee khaatir kaatata bejubaan mila hai  ,

aaj ik naya paigaam mila hai ,

 

 

नया पैगाम यह भी पढ़ें :-

  1. एक शख्स
  2. इन्सानों में पाया है
  3. ज़रूरत किरदार की
  4. रिक्र्यूट की लाईफ
  5. प्यारा सा बेटा 
  6. देश की तस्वीर 
  7. पुराना ज़माना
  8. अपने

Related Posts